Tata कंपनी का ये सोलर बदल देगा आपका जीवन कीमत जानकर खुश हो जाओगे आप। Tata 10kW Solar System

Tata 10kW Solar System Price: आज के समय में हर कोई बिजली के बिल से परेशान हो चुका है क्योंकि यदि इस गर्मी में ज्यादा कलर वगेरा चलते हैं तो बिजली काबिल ज्यादा आता है तो इसी के लिए लोग आज के समय में सोलर एनर्जी की तरफ भी झुकाव रख रहे हैं. ऐसे में यदि आप लोग भी अपना बिजली का बिल काम करना चाहते हैं तो आपको बता दे की टाटा कंपनी का सोलर सिस्टम आ चुका है जिसे लगवाने के बाद आप अपने बिजली की काफी बचत कर सकते हैं और आसानी से कलर और पंखे दोनों को चला सकते हैं.

Whatsapp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

भारत सरकार के इस बड़े फैसले के बाद,अब चुटकियों में खोल सकते हो आप पेट्रोल पंप।

Tata 10kW Solar System

यदि आप लोग टाटा कंपनी का 10 किलो वाट का सोलर सिस्टम लगवाना चाह रहे हैं तो सबसे पहले डेली पावर बिजली लोड को जान लेना काफी अनिवार्य होता है दैनिक लोड 10 से 50 यूनिट के बीच होता है और एक 10 किलो वाट का सोलर सिस्टम एक सूटेबल ऑप्शन भी हो सकता है यह सिस्टम अच्छे मौसम की स्थिति के अनुसार प्रतिदिन 10 से 50 यूनिट बिजली पैदा करने की क्षमता रखता है सोलर पैनल डायरेक्ट करंट के फॉर्म में बिजली को पैदा कर देता है जिसे फिर सोलर इनवर्टर के द्वारा अल्टरनेटिंग करंट के अंदर बदल जाता है.

वही एक रेगुलर सोलर इनवर्टर में बदलने के लिए सोलर चार्ज कंट्रोलर का इस्तेमाल भी किया जाता है जो एमपीटी और पवम टेक्नोलॉजी में उपलब्ध होते हैं वही सोलर पैनल के द्वारा जनरेट की गई बिजली को स्टोर करने के लिए आप सोलर बैटरी का दमदार इस्तेमाल कर सकते हैं यदि आप लोग भी सोलर बैटरी का इस्तेमाल नहीं करना चाहते तो आप लोग ऑन ग्रिड सोलर सिस्टम भी लगवा सकते हैं जो आपकी बिजली का बिल कम करने या फिर खत्म करने में भी मदद कर सकता है.

Whatsapp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Tata 10kW Solar System के घटक

एक 10 किलो वाट का सोलर सिस्टम लगाने का दो प्रकार के तरीके होते हैं ऑफ ग्रिल्ड और ऑन ग्रिड का ग्रेड सिस्टम में तो सोलर पैनल सोलर इनवर्टर सोलर चार्ज कंट्रोलर और सोलर बैटरी का इस्तेमाल किया जाता है तो वही ऑन ग्रेड सिस्टम में सोलर बैटरी का इस्तेमाल नहीं किया जाता और सोलर पैनल से पैदा होने वाली बिजली को ही इलेक्ट्रिक ग्रेड के साथ शेयर किया जाता है.

ऐसे में एक 10 किलो वाट सोलर सिस्टम के लिए आप लोगों को 330 वाट के 30 सोलर पैनल का इस्तेमाल करना पड़ता है इन सोलर पैनल की औसतन कीमत 275000 के आसपास आती है यदि आप अपनी जरूरत और बजट के हिसाब से फोलिक क्रिस्टलाइन और मोनोक्रिस्टलाइन सोलर पैनल में कोई भी चुनाव कर सकते हैं होली क्रिस्टल लाइन सोलर पैनल तो काम महंगे होते हैं जबकि मोनो क्रिस्टलाइन पैनल ज्यादा एफिशिएंट लेकिन महंगे होते हैं वहीं 10 किलोवाट सोलर सिस्टम के लिए 10 किलोवाट एम्पीयर सोलर इनवर्टर की भी आवश्यकता पड़ती है जिसकी कीमत भी 125000 की होती है और बेहतर परफॉर्मेंस के लिए आप ज्यादा महंगा सोलर इनवर्टर ही चुन सकते हैं.

भारत की पहली CNG बाइक आपके हर महीने बचाएगी इतने ₹ | Bajaj Freedom 125 CNG

यदि ऐसे में आप ऑफ ग्रिड सोलर सिस्टम लगवाने के बारे में विचार कर रहे हैं तो आपको पावर बैकअप की भी आवश्यकता पड़ती है आप अपने सिस्टम में सोलर बैटरी को जोड़ सकते हैं वहीं 10 किलोवाट एम्पीयर सोलर इनवर्टर में 120 वोल्ट का डीसी वोल्टेज दिया जाता है और आप 150 अंपायर आवर की 10 बैटरी लगा सकते हैं जिसकी कीमत डेढ़ लाख रुपये पड़ती है इन कॉम्पोनेंट के अलावा कनेक्शन वायर सोलर पैनल स्टैंड डीसीबी या एसडीबी बॉक्स इत्यादि छोटे-छोटे यानी की कुल मिलाकर इसके इंस्टॉलेशन में टोटल खर्चा ₹50000 कहा जाता है.

Tata 10kW Solar System की टोटल कॉस्ट

10kW सोलर पैनल (30 x 330 वाट)₹2,75,000
सोलर इन्वर्टर₹1,25,000
सोलर बैटरी (150Ah x 10)₹1,50,000
एडिशनल कॉस्ट₹50,000
टोटल कॉस्ट₹6,00,000

Leave a Comment

close
शिवलिंग पर चढ़ाए सुपारी होंगे इतने फायदे जानकर झूम उठोगे आप। क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने सानिया मिर्जा से शादी करने पर तोड़ी चुप्पी?,दिया बड़ा बयान। शादी के इतने सालों बाद करीना कपूर खान और सैफ अली खान में शुरू हो गई खटपट?जाने वजह दो बार तलाकशुदा और दो बच्चों की माँ को डेट कर रहा है ये एक्टर?,मचा बवाल बॉयकॉट के बाद अब Airtel का दिमाग भी आया ठिकाने, लांच किया 28 दिनों का सबसे सस्ता रिचार्ज प्लान, जिसमे मिलेगा डेटा, कॉलिंग…