हरियाणा के गुरुग्राम की इन 27 नियमित कॉलोनियों को मिलने जा रही है ये बड़ी सविधाएं,10 लाख लोगों को होगा बड़ा फायदा

हरियाणा के गुरुग्राम की इन 27 नियमित कॉलोनियों को मिलने जा रही है ये बड़ी सविधाएं,10 लाख लोगों को होगा बड़ा फायदा: गुरुग्राम में नियमित की गई 27 कॉलोनियों में जल्द ही विकास कार्य शुरू किए जाएंगे। इसके लिए करीब 40 करोड़ रुपये की लागत से कार्य कराने का खाका तैयार कर लिया गया है। इससे इन कॉलोनियों में रहने वाले दस लाख से अधिक लोगों को मूलभूत सुविधाएं मिलनी शुरू हो जाएंगी। इन कॉलोनियों में विकास कार्य कराने के लिए 75 फीसदी कार्य का एस्टीमेट तैयार कर लिया गया है।

Whatsapp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

शुक्रवार को चंडीगढ़ में हुई समीक्षा बैठक में निगम के एस्टीमेट को मंजूरी दे दी गई। नगर निगम की ओर से 103 अवैध कॉलोनियों को नियमित करने के लिए सर्वे कराया गया था। सर्वे पूरा करने के बाद फरवरी 2023 में इनका प्रस्ताव मुख्यालय को भेज दिया गया था।

हरियाणा के हिसार जिले की खुली किस्मत करोड़ो रु की लागत से विकास परियोजनाओ का निर्माण काम हुआ शुरू।

वित्तीय वर्ष 2023-24 में मुख्यालय के जोर जिले की 30 कॉलोनियों को नियमित किया जा चुका है। इसमें 19 कॉलोनियां नगर निगम गुरुग्राम के अंतर्गत आती हैं। वहीं, आठ कॉलोनियां फर्रुखनगर नगर परिषद की और तीन कॉलोनियां पटौदी नगर परिषद की हैं। पटौदी नगर परिषद ने अपनी कॉलोनियों को लेकर कोई एस्टीमेट तैयार नहीं किया है।

Whatsapp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

50 से अधिक एस्टीमेट तैयार

नियमित कॉलोनियों में विकास कार्यों के लिए नगर निगम की ओर से 50 से अधिक एस्टीमेट तैयार किए गए हैं। इसमें से 15 एस्टीमेट नगर निगम गुरुग्राम की ओर से तैयार किए जा रहे हैं, 18 विकास कार्यों के लिए तैयार किए जा चुके हैं। इनमें से आठ कार्यों को प्रशासनिक अनुमति मिल चुकी है और चार कार्य निजी एजेंसियों को आवंटित किए जा चुके हैं।

निगम की रिपोर्ट के अनुसार इनमें से तीन विकास कार्य पूरे भी हो चुके हैं। वहीं, फर्रुखनगर ने आठ कॉलोनियों के लिए 24 एस्टीमेट तैयार किए हैं। यहां 15 करोड़ से विकास कार्य किए जाएंगे, जबकि गुरुग्राम की 19 कॉलोनियों में 25 करोड़ के एस्टीमेट तैयार किए गए हैं।

जमा कराना होगा विकास शुल्क

अब लोगों को निकायों में विकास शुल्क जमा कराना होगा। पहले इन कॉलोनियों के अवैध होने के कारण सड़क निर्माण, पेयजल कनेक्शन के कार्य नहीं हो पाते थे, लेकिन अब लोगों को विकास शुल्क के नाम पर कलेक्टर रेट का पांच प्रतिशत निगम में जमा कराना होगा।

इस राज्य में बड़े मंत्री की घोषणा: पेंशन धारकों को मिलेंगे ₹6000, गरीबों को मिलेगी 300 यूनिट बिजली फ्री

ये मिलेंगी सुविधाएं

नियमित की गई इन कॉलोनियों में रहने वाले 10 लाख से अधिक लोगों को निगम की ओर से विभिन्न मूलभूत सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। अब निगम सबसे पहले इन कॉलोनियों में पानी की लाइन, सीवर लाइन, सड़कें, स्ट्रीट लाइटें, पार्क विकसित करेगा।

इन कॉलोनियों को किया गया नियमित

जिन अवैध कॉलोनियों को नियमित किया गया है, उनमें गुरुग्राम में न्यू पालम विहार फेज 1 और 2, भोंडसी में शंकर विहार और टेकचंद कॉलोनी (टेकचंद नगर एक्सटेंशन और शहीद भगत सिंह एन्क्लेव), वाटिका कुंज एक्सटेंशन, शांति कुंज, कृष्णा कुंज, श्रीराम एन्क्लेव (गोवर्धन कुंज), राजेंद्र पार्क, अनम कॉलोनी बी-22, पटौदी में आनंदपुर आश्रम कॉलोनी, धुनेला में कॉलोनी सी-4 शामिल हैं। इसके अलावा फर्रुखनगर की जाट कॉलोनी ए-21ए, 21बी मारुति कॉलोनी आदि शामिल हैं।

Leave a Comment

close
शिवलिंग पर चढ़ाए सुपारी होंगे इतने फायदे जानकर झूम उठोगे आप। क्रिकेटर मोहम्मद शमी ने सानिया मिर्जा से शादी करने पर तोड़ी चुप्पी?,दिया बड़ा बयान। शादी के इतने सालों बाद करीना कपूर खान और सैफ अली खान में शुरू हो गई खटपट?जाने वजह दो बार तलाकशुदा और दो बच्चों की माँ को डेट कर रहा है ये एक्टर?,मचा बवाल बॉयकॉट के बाद अब Airtel का दिमाग भी आया ठिकाने, लांच किया 28 दिनों का सबसे सस्ता रिचार्ज प्लान, जिसमे मिलेगा डेटा, कॉलिंग…