क्या सच मे दुर्योधन की माँ गांधारी के द्वारा शकुनि को दिए श्राप के कारण अफगानिस्तान की धरती आज भी झेल रही…

Why Gandhari gave curse to Shakuni: महाभारत आप सभी लोगों ने देखी होगी। जैसा कि आप लोगों को मालूम है कि भीष्म पितामह गंधार की पुत्री के साथ धृतराष्ट्र की शादी करवा देते हैं. इसके बाद ही असल महाभारत तो शुरू होती है. ऐसा इसलिए है क्योंकि गांधारी का भाई शकुनी उसे समय एक प्रण लेता है कि वह कौरव वंश का सर्वनाश कर देगा।

Whatsapp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

यही कारण है कि शकुनी दुर्योधन को भड़काना शुरू कर देता है और आखिर में पांडवों और कौरवों के बीच महाभारत का युद्ध हो जाता है. इस युद्ध में गांधारी के 100 पुत्रों की मृत्यु हो जाती है. तो वही गांधारी अपने सभी पुत्रों की मृत्यु का कारण दो व्यक्तियों को मानते हैं जिनमें एक प्रभु श्री कृष्णा और दूसरा उनका भाई शकुनी है.

जैसा कि आप लोग जानते होंगे कि गांधारी ने श्री कृष्ण को उनके कल का नाश होने का श्राप दिया था. लेकिन क्या आप लोग यह भी जानते हैं कि गांधारी ने अपने भाई शकुनी को क्या श्राप दिया था.

Why Gandhari gave curse to Shakuni

गांधारी ने उस गांधार राजा को श्राप दिया जिसने मेरे 100 पुत्रों को मार डाला, तुम्हारे राज्य में कभी शांति नहीं रहेगी, यहां हमेशा दुख का माहौल रहेगा। माना जाता है कि गांधारी के इसी श्राप के कारण अफगानिस्तान में कभी शांति का माहौल नहीं रहा।

तालिबान के सत्ता में आने के बाद और उससे पहले भी कभी शांति नहीं रही. कहा जाता है कि यह देश किसी भी काल में तनाव और संघर्ष के बिना नहीं रह पाया है। इन सभी कारणों के पीछे गांधारी के श्राप का प्रभाव माना जाता है।

TATA ने बाजार उतरते ही मचा दिया गदर, निकाल 149 रु धांसू प्लान, Prime, Diney+Hotstar, Apple TV+, Zee 5 के साथ कई OTT फ्री…

Whatsapp Channel Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment

अब मुठ्ठीभर नमक दिलाएगा आपको गर्मी से राहत,देगा गर्मी में सर्दी का अहसास। 140 करोड़ भारतीयों के लिए आई खुशखबरी अब बिना सिम कार्ड के चलेगा रॉकेट जैसी स्पीड से इंटरनेट, जाने कैसे। राधारानी पर दिए विवादित बयान को लेकर कथावाचक प्रदीप मिश्रा को संतो का फूटा गुस्सा, दिया आखरी अल्टीमेटम, बोले… सोने-चांदी के दामों में हुआ बड़ा उलटफेर, जानें क्या है नए दाम… Post Office Bharti: पोस्ट ऑफिस में लगने का सुनहरा मौका, बिना पेपर दिए हो रही सीधी भर्ती